नई दिल्ली: Coronavirus Pandemic: कोरोना वायरस की देशव्‍यापी महामारी के बीच आल इंडिया मजलिस-ए-इत्‍तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने निजामुद्दीन मरकज को लोगों को लेकर दिल्‍ली सरकार पर एक आरोप लगाकर सियासी माहौल गरमा दिया है.

ओवैसी ने एक ट्वीट कर कहा, ‘निगेटिव टेस्‍ट के बाद भी निजामुद्दीन मरकज के लोगों को डिस्‍चार्ज क्‍यों नहीं किया जा रहा है. वे दो बार जरूरी क्‍वारंटाइम की अवधि को पूरा कर चुके हैं लेकिन दिल्‍ली सरकार उन्‍हें डिस्‍चार्ज करने की इजाजत नहीं दे रही. ये 31 मार्च से वहां हैं और उन्‍हें तुरंत छुट्टी दी जानी चाहिए.

भारत में कोरोना वायरस की महामारी (Coronavirus Pandemic) के दौरान निजामुद्दीन मरकज और तब्‍लीगी जमात का नाम सुर्खियों में आया था. निजामुद्दीन मरकज में तब्‍लीगी जमात के कार्यक्रम में बड़ी संख्‍या में लोग एकत्रित हुए थे और इसमें से कई लोग पॉजिटिव पाए गए थे. जमात के कार्यक्रम में भाग लेने वाले लोग बाद में अपने राज्‍य लौटे थे जहां दूसरे लोगों के संपर्क में आने के कारण वहां भी कोरोना के केसों की संख्‍या में इजाफा हुआ था. तब्‍लीगी जमात के कार्यक्रम को देश में कोरोना वायरस के केसों में वृद्धि के लिए काफी हद तक जिम्‍मेदार माना गया था.

गौरतलब है कि देश में Covid-19 संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 46,000 के पार पर पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने मंगलवार को यह जानकारी दी. आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 1,568 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 46,433 हो गई है.

पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3900 नए मामले सामने आए हैं और 195 लोगों की मौत हुई है. 24 घंटे में यह अब तक के सबसे ज्यादा नए मामले और मौत के आंकड़े हैं. इससे पहले 24 घंटे में सबसे ज्यादा 83 लोगों की मौत हुई थी. हालांकि, थोड़ी राहत वाली बात यह है कि इस बीमारी से अब तक 12,727 मरीज ठीक को चुके हैं.

बता दें कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया. लॉकडाउन के मौजूदा चरण को बढ़ाकर 17 मई कर दिया गया है.

ReportLook Desk

Reportlook Media Network

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *