टिकट ने मिलने पर पार्टी के पदाधिकारियों से पेड़ से भी बांधा जा सकता है, यह किसी ने सोचा भी नहीं होगा। हालांकि राजस्थान के नागौर में कुछ ऐसा ही हुआ जो कि राजनीति में देखने को नहीं मिलता है। यहां गुस्साए बीजेपी कार्यकर्ताओं ने अपने पदाधिकारी को पेड़ से बांध दिया। कार्यकर्ताओं ने गुस्से में पार्टी का झंडा भी जला दिया। बाद में दूसरे नेताओं ने पार्टी पदाधिकारियों को बंधनमुक्त करवाया।

यहां पंचायत समिति के चुनाव के लिए उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की गई थी। इस सूची से बहुत सारे कार्यकर्ता संतुष्ट नहीं थे। कार्यकर्ताओं ने सूची पर आपत्ति जताई और विरोध करना शुरू कर दिया। बाद में तीन पदाधिकारियों को पेड़ से बांध दिया गया।

इसका वीडियो भी वायरल हो रहा है। पदाधिकारी पेड़ से बंधे हैं और कार्यकर्ता हाय हाय के नारे लगा रहे हैं। बहुत सारे लोग पास में ही मोबाइल से वीडियो शूट कर रहे थे। लोगों ने बीजेपी हाय-हाय का नारा लगाकर झंडे को आग लगा दी।

यहां बाद में स्थानीय ग्रामीणों और स्थानीय मंडल के अध्यक्ष ने पहुंचकर उन्हें मुक्त करवाया। इस समय राजस्थान में पंचायत के चुनाव चल रहे हैं। इसको लेकर कार्यकर्ताओं में कई जगह पर असंतोष देखा गया है।

यह वीडियो हरसौर मंडल का बताया गया है। यहां पर पार्टी में फूट होने की वजह से अलग-अलग गुट बन गए हैं। अपने गुट को सपोर्ट करने और पक्षपात करने के आरोप पार्टी पदाधिकारियों पर लग रहे थे। लोगों ने यह भी बताया कि पूर्व कैबिनेट मंत्री अजय सिंह किलक ने अपने कैंडिडेट्स को ही टिकट दिलाया है और सूची जारी होने के बाद वह जयपुर चले गए। इसके बाद कार्यकर्ताओं को गुस्सा आया और वहां उपस्थित पदाधिकारियों को रस्सी से जकड़ दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *