हरियाणवी डांसर सपना चौधरी के पति वीर साहू सहित 65 लोगों के खिलाफ महम थाना में धारा 144 का उल्लंघन करने, बिना अनुमति भीड़ जुटाने व आपदा प्रबंधन नियमों की अवहेलना करने के मामले में केस दर्ज हुआ है। थाना महम में सुरक्षा एजेंट के पद पर कार्यरत कर्मचारी ने पुलिस में दी शिकायत में बताया कि सोमवार को हिसार जिले के गांव मदनहेड़ी निवासी वीर साहू अपने साथियों के साथ लगभग 15 गाड़ियों में महम चौबीसी चबूतरे पर जाने के लिए निकला था।

रास्ते में ही वीर साहू को शहर में बिना अनुमति भीड़ एकत्रित करने पर पाबंदी होने व पुलिस खड़ी होने की जानकारी मिल गई। उसके बाद काफिले के साथ गांव फरमाणा खास बाईपास स्थित जुलाना रोड़ पर चला गया। वहां पर करीब 60-70 लोग खड़े थे। उन सभी ने कोविड-19 से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हिदायतों का पालन नहीं किया। पुलिस ने सुरक्षा एजेंट के बयानों के आधार पर वीर साहू सहित 60-65 अन्यों के खिलाफ धारा 188, 34 व 51बी आपदा प्रबंधन के तहत केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

दरअसल सपना चौधरी के पति वीर साहू के सामने किसी ने फेसबुक पर ऑनलाइन आकर उनके निजी जीवन संबंधी अशोभनीय टिप्पणी कर दी, जिससे विवाद उत्पन्न हो गया। उसके बाद बात बढ़ती चली गई तथा दोनों पक्षों द्वारा महम चौबीसी के चबूतरे को केंद्र मानकर वहां आने पर देख लेने की धमकी दे डाली। इसके लिए 12 अक्तूबर को दोपहर 12 बजे का समय निर्धारित किया गया। सोशल मीडिया पर ही एक दूसरे की चुनौती स्वीकार करने के बाद दोनो पक्षों की ओर से भारी संख्या में युवकों को लाने की खबर सामने आई। वही दूसरी ओर महम थाने के एसएचओ नवीन जाखड़ ने बताया कि सपना चौधरी के पति वीर साहू समेत 65 लोगो के मामला दर्ज किया है।उन्होंने बताया कि कोरोना नियमो को तोड़ने ओर शहर में दहशत फैलाने की धारा लगाई गई है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *