नई दिल्ली:दिल्ली के जहांगीरपुरी में एक ही परिवार के 26 लोगों के कोरोनावायरस (Delhi Coronavirus Report) से संक्रमित होने की खबर मिलते ही राजधानी में हड़कंप मच गया था. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) द्वारा इस बारे में कहे जाने के बाद यह मामला सुर्खियों में आया था.

उन्होंने कहा था कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने के चलते परिवार के 26 लोग कोरोना से संक्रमित हो गए. तथ्यों को जांचने से जुड़ी एक वेबसाइट ने दावा किया है कि यह खबर सही नहीं थी. जिसके बाद AIMIM प्रमुख और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने एक ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल पर तंज कसा है.

असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट किया, ‘अस्पतालों ने अजीमन बीबी में लक्षण दिखने के बावजूद टेस्ट नहीं किया था और उनके अंतिम संस्कार के बाद उन्हें पता चल गया कि वह कोरोना पॉजिटिव थीं.

मुख्यमंत्री अपनी सरकार की इन कमियों को कैसे पूरा करेंगे. उन्होंने अपनी कल्पना से परिवार के 26 लोगों को कोरोना संक्रमित बताया और उनपर इसका इल्जाम लगा दिया. एक मुख्यमंत्री को व्हॉट्सऐप के लिए कंटेंट तैयार नहीं करना चाहिए.’

CM अरविंद केजरीवाल के दावे को गलत साबित करने वाली खबर के मुताबिक, 18 अप्रैल को मुख्यमंत्री ने दिल्ली में कोरोना की स्थिति पर वीडियो पोस्ट के जरिए अपनी बात रखी थी. इस दौरान उन्होंने कहा था कि जहांगीरपुरी में एक समुदाय के 26 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. सभी एक ही परिवार से हैं. उनके घर एक-दूसरे से सटे हैं.

CM ने आगे कहा था कि कंटेनमेंट जोन होने के बावजूद वह लोग एक-दूसरे के घर गए. जांच में पता चला है कि परिवार में 26 लोग हैं ही नहीं. परिवार में 15 लोग हैं और सभी कोरोना से संक्रमित नहीं हैं. बताते चलें कि दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी गलत जानकारी पर कमेंट करते हुए ट्विटर पर लिखा था, ‘फैमिली है या मोहल्ला.’

CM अरविंद केजरीवाल के दावे को गलत साबित करने वाली खबर के मुताबिक, 18 अप्रैल को मुख्यमंत्री ने दिल्ली में कोरोना की स्थिति पर वीडियो पोस्ट के जरिए अपनी बात रखी थी. इस दौरान उन्होंने कहा था कि जहांगीरपुरी में एक समुदाय के 26 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. सभी एक ही परिवार से हैं. उनके घर एक-दूसरे से सटे हैं.

CM ने आगे कहा था कि कंटेनमेंट जोन होने के बावजूद वह लोग एक-दूसरे के घर गए. जांच में पता चला है कि परिवार में 26 लोग हैं ही नहीं. परिवार में 15 लोग हैं और सभी कोरोना से संक्रमित नहीं हैं. बताते चलें कि दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी गलत जानकारी पर कमेंट करते हुए ट्विटर पर लिखा था, ‘फैमिली है या मोहल्ला.’

ReportLook Desk

Reportlook Media Network

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *