नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर देश की राजधानी दिल्ली में लगातार दूसरे दिन जमकर हिंसा हुई. नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में सीएए समर्थकों और विरोधियों के बीच हुई हिंसक झड़प में अब तक करीब चार लोगों की मौत की पुष्टी हो चुकी है. जिसमें एक दिल्ली पुलिस का हेड कांस्टेबल भी शामिल है.

जबकि कुल 50 लोगों के जख्मी होने की सूचना है. इस बीच मंगलवार को हिंसा भड़कने की आशंका के चलते नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल बंद रखने के आदेश दिए गए है. साथ ही सभी परीक्षाएं भी टाल दी गई है.

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली के सभी सरकारी और निजी स्कूल मंगलवार को बंद रहेंगे. सिसोदिया ने ट्वीट कर बताया “दिल्ली में हिंसा प्रभावित नॉर्थ ईस्ट जिले में कल स्कूलों की गृह परीक्षाएँ नहीं होंगी और सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे.

बोर्ड परीक्षाओं के सम्बंध में मैंने मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल से बात की है कि इस जिले में कल की बोर्ड परीक्षा भी स्थगित कर दी जाए.”

मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को सीएए का सर्मथन और विरोध करने के नाम पर उत्तर पूर्वी जिले के दयालपुर, मौजपुर, करावल नगर, गोकुलपुरी, भजनपुरा, कर्दमपुरी, चांद बाग में उपद्रियों ने जमकर उत्पात मचाया. इस दौरान सीएए का समर्थन करने वाले और विरोध करने वाले समूहों के बीच खूनी संघर्ष हुआ और कई घरों, दुकानों तथा वाहनों में आग लगा दी गई. जमकर एक-दूसरे पर पथराव किया गया. इसके अलावा कुछ जगहों पर गोलीबारी की भी खबर है.

दिल्ली पुलिस ने एक बयान में बताया की सोमवार को उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुई झड़पों में कुल चार लोगों की जान चली गई. जिसमें 3 नागरिक और 1 पुलिस हेड कांस्टेबल शामिल है. जबकि हिंसा में करीब दस पुलिसवालों के अलावा 50 से ज्यादा लोग घायल हुए है.

इस बीच, केंद्र सरकार ने दिल्ली पुलिस को हालात काबू में करने के लिए सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए है. साथ ही हिंसा में संलिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है. जिसके बाद सभी संवेदनशील स्थानों पर भारी पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है.

मौजपुर, जाफराबाद, सीलमपुर, गौतमपुरी, भजनपुरा, चांद बाग, मुस्तफाबाद, वजीराबाद और शिव विहार जैसे संवेदनशील स्थानों पर धारा 144 लागू की गई है.

ReportLook Desk

Reportlook Media Network

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *