पेरिस। फ्रांस में विवादित कृत्य करने वाले अध्यापक को पैगम्बर मुहम्मद साहब का कार्टून बनाना महंगा पड़ गया और अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। यहां पर क्‍लास में पैगंबर मोहम्‍मद का कार्टून दिखाने पर एक टीचर का सिर कलम कर दिया गया है।

राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैंक्रो ने इसे एक इस्‍लामिक आतंकी हमला करार दिया है। शुक्रवार को स्‍कूल के अंदर हुई इस घटना ने हर किसी को दहला दिया है। हमलावर की पहचान पुलिस ने अभी सार्वजनिक नहीं की है। पुलिस का कहना है कि हमलावर को गिरफ्तार करने की कोशिश में उसे गोली मारनी पड़ी और उसकी मौत हो गई है।

पुलिस की तरफ से बताया गया है कि टीचर का सर कलम करने वाले हमलावर ने ‘अल्‍लाह हू अकबर’ की सदा बुलंद की थी।

फ्रांस साल 2015 में भी ऐसे ही हमले किए गए जब इस्लाम और पैगम्बर मुहम्मद साहब को लेकर विवादित कृत्य किए गए। यहां पर उस वर्ष पहले मैगजीन चार्ली हेब्‍दो के ऑफिस पर हमला हुआ और इसके बाद मुंबई स्‍टाइल में हमलों को अंजाम दिया गया था। फ्रांस के आतंक-विरोधी अभियोजकों का कहना है हमला किसी आतंकी संगठन के उकसाने पर किया गया है।

हमला पेरिस में शुक्रवार को स्‍थानीय समयानुसार शाम 5 बजे हुआ और इस समय मृत टीचर मौजूद थी। स्‍कूल राजधानी पेरिस से करीब 30 किलोमीटर दूर है। राष्‍ट्रपति मैंक्रो ने घटनास्‍थल का दौरा किया और कहा कि का कहना है कि यह एक आतंकी हमला है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *