प्रयागराज: उत्तर प्रदेश में प्रयागराज के नैनी क्षेत्र में पूर्व सभासद पप्पू गंजिया उर्फ मोहम्मद जावेद के फार्म हाउस पर बने भवन को अवैध पाए जाने के कारण प्रयागराज विकास प्राधिकरण (प्रविप्रा) ने तोड़े जाने की कार्रवाई शुरू की।

पुलिस अधीक्षक यमुनापार चक्रेश मिश्रा के नेतृत्व में कई थाने की पुलिस और पीएसी के जवान नैनी नए पुल के पीछे एक करोड़ रूपये मूल्य से अधिक मूल्य वाले भवन को तोड़ने की कार्रवाई शुरू किया है।

कुछ दिन पहले ही पप्पू गंजिया पर रंगदारी का मुकदमा दर्ज हुआ था जिसमें वह जेल भेजा गया है। नैनी थाने का हिस्ट्रीशीटर रहा है। उसके ऊपर हत्या, हत्या के प्रयास, ज़मीन कब्जे धमकी और रंगदारी के दो दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रविप्रा के बुलडोजर सपा नेता और भू माफिया घोषित किए गए पप्पू गंजिया के नैनी इस्तित आलीशान फार्म हाउस में बने भवन को ढ़हाने पहुंचा। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस फोर्स भी मौजूद रही। ढाई बीघे में बने फार्म हाउस का नक्शा नहीं बना धा। कुछ जमीन सरकारी भी बताई जाती है। इसकी कीमत एक करोड से अधिक आंकी गई है। विरोध के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्र हुए थे लेकिन पुलिस ने सभी को समझा-बुझाकर हटा दिया।

गौरतलब है कि गुजरात के अहमदाबाद जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद, दिलीप मिश्रा, रामलोचन यादव, बच्चा पासी, राजेश यादव का मकान ढहाने के बाद अब हिस्ट्रीशीटर पंपू गंजिया के फार्म हाउस को ढहाने की कार्रवाई की गई।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *