नई दिल्ली। देश कीराजधानी में कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों को संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। दिल्ली (Delhi) में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 72 पहुंच गई है। इस बीच खबर है कि 30 नए संदिग्ध लोगों को लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल (LNJP Hospital) में भर्ती कराया गया है। इससे पहले सऊदी अरब व अन्य खाड़ी देशों से दिल्ली आए करीब 70 लोगों को रविवार की देर रात निजामुद्दीन (Nizamuddin) से एलएनजेपी अस्पताल लाया गया। अब उनकी मेडिकल रिपोर्ट सामने आई है। जिसमें निजामुद्दीन से आइसोलेटेड किये गए लोगों में से 6 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो गई है। सभी को एम्स झज्जर में शिफ्ट किया गया है।

सऊदी अरब से आए 70 लोगों को एलएनजेपी में रखा
बताया गया कि यह सभी यहां पर आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए थे और निजामुद्दीन स्थित एक मस्जिद में रुके हुए थे। जानकारी होने पर प्रशासन ने पहले इन सभी को एक साथ डीटीसी बस में बिठाया गया फिर आरएमएल अस्पताल ले गई लेकिन, वहां बेड नहीं होने के कारण सभी को एलएनजेपी अस्पताल ले जाकर भर्ती कराया गया।

कोरोना संदिग्धों की संख्या 121 पहुंचीं
ये भी बताया जा रहा है कि लॉकडाउन (Lockdown) से ठीक दो दिन पहले निजामुद्दीन तबलीगी मरकज में सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हुई थी। इस भीड़ में कुछ लोग कोरोना संक्रमित थे, जो विदेश से यात्रा कर लौटे थे। अब इस भीड़ में उपस्थित सभी लोगों पर कोरोना संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। मरकज में शामिल लगभग 100 से अधिक संदिग्धों को दिल्ली के दो अलग-अगल अस्पतालों मे भर्ती कराया गया है। वहीं इनके सैंपल भी जांच के लिए तुरंत भेज दिए गए हैं। एलएनजेपी अस्पताल में 100 संदिग्धों को भर्ती कराने के बाद यहां कोरोना संदिग्धों की संख्या 121 पहुंच चुकी है।

यदि संक्रमण की पुष्टि हुई तो भारत कोरोना की तीसरी स्टेज पर होगा?
यदि भीड़ में उपस्थित लोग कोरोना पॉजिटिव मिलते हैं तो भारत में कोरोना संक्रमण को तीसरी स्टेज में पहुचंने से कोई नहीं रोक सकेगा। भीड़ में सैकड़ों लोग उपस्थित थे और इतने दिन तक ये लोग ना जाने कितने लोगों के संपर्क में आए होंगे। यदि इन 106 लोगों में संक्रमण की पुष्टि होती है तो कोरोना की तीसरी स्टेज दिल्ली में प्ररांभ हो जाएगी। कोरोना संक्रमण के तीसरी स्टेज पर जाने का मतलब है कि देश में सामुदायिक संक्रमण यानी की कम्यूनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो जाएगा जो भारत में एक बहुत ही भयानक स्थिति को जन्म दे सकता है।

रैन बसेरों से भी तसरी स्टेज का खतरा
दिल्ली में लॉकडाउन के बाद भी सड़कों पर प्रवासियों की भीड़ घूम रही है। इस भीड़ के कारण भी दिल्ली में संक्रमण के तीसरी स्टेज में पहुंचने की आशंका पहले ही जताई जा चुकी है। हालांकि केजरीवाल सरकार अपनी ओर से स्वास्थ्य सुविधाओं के उपलब्ध होने का दावा कर रही है। वहीं प्रवासियों के लिए भी सुविधा मुहैया करना की हर संभव कोशिश कर रही है। दिल्ली में रैन बसेरों में भी लोगों की भीड़ है। 500 की क्षमता वाले रैन बसेरों में 5000 लोग जगह मांग रहे हैं। ऐसे में यहां पर भी कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा बना हुआ है।

ReportLook Desk

Reportlook Media Network

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *