चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से जुड़े अखबार ग्लोबल टाइम्स के एक लेख में दावा किया गया है कि अगर चीन और भारत के बीच युद्ध शुरू होता है तो भारत की हार तय है. ग्लोबल टाइम्स अखबार की चीफ रिपोर्टर और ओपिनियन राइटर वांग वेनवेन ने लेख में कहा है कि उत्तर प्रदेश के बीजेपी प्रमुख स्वतंत्र देव सिंह ने यह कहकर हलचल पैदा कर दी है कि पीएम नरेंद्र मोदी पहले ही तय कर चुके हैं कि चीन और पाकिस्तान के साथ भारत कब युद्ध करेगा.

ग्लोबल टाइम्स के लेख में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश के बीजेपी प्रमुख स्वतंत्र देव सिंह के दावे से भारत के लोगों में गलत समझ पैदा होगी कि भारत इतना शक्तिशाली है कि चीन और पाकिस्तान के साथ युद्ध में उसकी ही जीत होगी. वांग वेनवेन का कहना है कि सेना के साथ-साथ अन्य मामलों में भी चीन भारत से कहीं अधिक मजबूत है.

ग्लोबल टाइम्स ने लेख में कहा है कि भारत राजनीतिक रूप से एक महत्वपूर्ण शक्ति है, लेकिन चीन के साथ युद्ध की स्थिति में हार तय है. लेख के मुताबिक, भारत को चीन के साथ रिश्ते बेहतर करने के लिए अच्छे सिग्नल भेजने की जरूरत है, न कि युद्धप्रिय बयान देने की. ग्लोबल टाइम्स के लेख में यह भी कहा गया है कि बीजेपी के उत्तर प्रदेश प्रमुख आधिकारिक तौर से भारत सरकार का प्रतिनिधित्व नहीं करते. ना ही उनके पास सैन्य मामले या सरकार का प्रभार है. इसलिए जब उन्होंने युद्ध की बात की, वे पावर पॉलिटिक्स की बात कर रहे थे.

ग्लोबल टाइम्स के लेख में कहा गया है- 2018 के अंत में बीजेपी पांच राज्यों में चुनाव हार गई जिससे बीजेपी की शासन करने की क्षमता पर शक बढ़ गया. स्वतंत्र देव सिंह ने बीजेपी की प्रतिष्ठा वापस हासिल करने में मदद नहीं की, बल्कि बिना नतीजे की चिंता किए युद्ध भड़काने वाली बातें कही. वांग वेनवेन ने लेख में कहा है कि अगर भारत कोई लड़ाई जीतना चाहता है तो उसे कोरोना वायरस के खिलाफ युद्ध जीतने पर फोकस होना चाहिए. अफसोसजनक तौर से भारत की बड़ी हार हुई है. कोरोना वायरस संक्रमण की रैंकिंग में भारत दूसरे नंबर पर पहुंच गया है और मामले अब भी बढ़ ही रहे

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *