बेंगलुरु. केरल में एक चर्च के पादरी की एक महिला के साथ कुछ निजी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं. इन तस्वीरों को लेकर राज्य में काफी गुस्सा देखा गया, जिसके बाद पादरी को सस्पेंड कर दिया गया है.

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि ये तस्वीरें इडुक्की जिले में एक मोबाइल फोन की दुकान से ‘लीक’ की गई थी, जिसके बाद दुकान के मालिक वेल्लायमकुडी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कर मामले की जांच की मांग की है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, पादरी का मोबाइल फोन कुछ दिनों पहले मरम्मत के लिए दुकान पर लाया गया था. हालांकि दुकान के मालिक ने अपनी दुकान से तस्वीरों के लीक होने के आरोपों का खंडन किया है.

इडुक्की जिले में कट्टप्पना के वेल्लायमकुडी में कैथोलिक चर्च के आरोपी पादरी, फादर जेम्स मंगलसेरी के खिलाफ चर्च प्रशासन ने तुरंत की कार्रवाई करते हुए सस्पेंड कर दिया है. 21 मई को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया, ‘मंगलसेरी को 24 मार्च, 2020 को विकर की भूमिका से निलंबित कर दिया था. चर्च की जांच अभी जारी है.’

पादरी के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखी महिला के बारे में बताया जा रहा है कि वह एक पैरिश के तहत किसी संस्थान की कर्मचारी है.

इस तस्वीरों के सुर्खियों में आने से पहले ही पादरी वहां से चले गए थे. पता चला है कि उन्होंने एक नेत्र अस्पताल में इलाज की मांग की थी और बाद में एर्नाकुलम जिले के मलयाट्टूर स्थित एक आश्रम में चले गए.

महिला शादीशुदा है और दो की मां है. उसके करीबी सूत्रों ने कहा कि वह पुलिस में याचिका दायर कर सकती है. इस बीच, कट्टप्पन के सर्कल इंस्पेक्टर ने कहा कि उन्हें अभी तक पुजारी या महिला की ओर से कोई शिकायत नहीं मिली है.

ReportLook Desk

Reportlook Media Network

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *