नई दिल्ली। नए कृषि कानून ( Farm Bill ) के विरोध में लगातार 10वें दिन भी अन्नदाता सड़कों पर संघर्ष कर रहा है। खुले आसामान के नीचे किसान अपने हक की लड़ाई के चलते सर्दी, भूख और कोरोना जैसी महामारी की भी परवाह नहीं कर रहे हैं। लेकिन किसानों आंदोलन के ऐसे नाजुक पलों के बीच भी लोग विवादित बयानों से बाज नहीं आ रहे हैं। ताजा मामला पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह ( Yuvraj Singh ) के पिता योगराज सिंह ( Yograj Singh )से जुड़ा है। जोगराज सिंह ने किसान आंदोलन के बीच विवादित बयान दे डाला है।

योगराज के विवादित बयान के बाद अब उनकी गिरफ्तारी की मांग भी उठने लगी है। आईए जानते हैं क्या है पूरा मामला।

हिंदुओं पर की विवादित टिप्पणी
किसान आंदोलन (Farmers Protest) के समर्थन में पहुंचे पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) के पिता योगराज सिंह (Yograj Singh) ने हिंदुओं को लेकर कथित रूप से आपत्‍तिजनक टिप्‍पणी की है।
अति उत्साह में जोगराज की जुबान फिसल गई। योगराज ने किसान आंदोलन के दौरान भाषण में हिंदुओं को लेकर ऐसी टिप्‍पणी की है, जिसके बाद बवाल खड़ा हो गया।

योगराज के भाषण का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो को देखने को बाद लोग उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

(नोटः रिपोर्ट लुक.कॉम योगराज सिंह के सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के सत्यता की पुष्टि नहीं करता)

ये बोले योगराज
सोशल मीडिया पर वायर हो रहे वीडियो में योगराज सिंह पंजबा भाषा में भाषण दे रहे हैं। भाषण के दौरान वह हिंदुओं के लिए ‘गद्दार’ शब्द का इस्तेमाल करते नजर आ रहे हैं।

योगराज कहते हैं कि, ‘ये हिंदू गद्दार हैं, सौ साल मुगलों की गुलामी की’। इतना ही नहीं, उन्होंने महिलाओं को लेकर भी विवादास्पद बयान दिया है।

#ArrestYograjSingh कर रहा ट्रेंड
वायर वीडियो को लेकर कई यूजर्स ने योगराज के बयान की कड़ी आलोचना की। निंदा करते हुए यूजर्स ने इसे भड़काऊ, अपमानजनक और घृणास्पद करार दिया है। साथ ही कई यूजर्स तुरंत योगराज सिंह की गिरफ्तार की मांग भी कर रहे हैं। Arrest YograjSingh सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है।

पहले दे चुके हैं विवादित बयान
योगराज सिंह का विवादों से पुराना नाता रहा है। फिर चाहे वो अपने बेटे को लेकर हो या फिर क्रिकेट के दिग्गजों को लेकर। योगराज सिंह पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लेकर भी विवादित बयान दे चुके हैं। योगराज ने धोनी पर अपना गुस्सा उस वक्त निकाला था, जब उनकी कप्तानी में युवराज सिंह का टीम इंडिया में चयन नहीं हुआ था

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *