मुरादाबाद. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद (Moradabad) जनपद में राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के नाम पर वसूली का मामला सामने आने के बाद बीजेपी (BJP) जिला अध्यक्ष की शिकायत पर पुलिस (Police) ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. आरोप है की चंदे की रसीद पर यूपी के कैबनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह और भाजपा जिला अध्यक्ष राजपाल सिंह चौहान की तस्वीर का भी इस्तेमाल किया गया है. विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ नाम के संगठन ने ये चंदे की रसीदें छपवाई हैं. कैबनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह का कहना है कि राम मंदिर के नाम पर धन संग्रह की शिकायत मिली थी. आरोपियों के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज कराया गया है. गलत काम करने वालो पर कार्रवाई होनी ही चाहिए।

विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ नाम के संगठन द्वारा राम मंदिर के नाम पर चंदा वसूलने की जानकारी होने पर बीजेपी नेताओ ने इसे गंभीरता से लिया और पार्टी नेताओ के फोटो के गलत इस्तेमाल पर जिला अध्यक्ष की तरफ से मझोला थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया. विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ चंदे की रसीदें छपवा कर चंदा वसूल रहा था और सोशल मीडिया में भी बीजेपी नेताओ के फोटो लगा कर चंदे की अपील की जा रही थी, कैबनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह को इसकी जानकारी हुई तो बीजेपी जिला अध्यक्ष द्वारा पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया गया है.

विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ ने दी ये सफाई 

विश्व हिन्दू महाशक्ति संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने फोन पर जानकरी दी की उनका संगठन 2018 से काम कर रहा है और वह जमा धन राम मंदिर को भेजने वाले थे, लेकिन अब चंदा रोक दिया गया है, वहीं यूपी के कैबनेट मंत्री भूपेन्द्र सिंह का कहना है की ऐसे लोगों पर दंडात्मक कार्यवाई जानी चाहिए, चंदे की रसीद पर मुख्यमंत्री, मंत्री और सम्मानित नेताओ के फोटो छपे हैं जो गलत है. उधर पुलिस का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है. साईबर सेल को भी जांच में लगाया गया है.

पुलिस ने शुरू की जांच 

एसपी सिटी, मुरादाबाद अमित कुमार आनंद ने कहा कि इस मामले में मुकदमा दर्ज हुआ है और जो भी सुसंगत धाराएं है उसमें उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। साईबर सेल को भी जांच में लगाया गया है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *