फरीदाबाद के निकिता मर्डर केस (Nikita Murder Case) में रविवार को बुलाई गई महापंचायत के बाद बल्लभगढ़ में बवाल हो गया। सर्व समाज पंचायत ने फैसला किया कि निकिता की हत्या के मामले में दोषी लोगों को जल्दी फांसी दी जाए। इसके बाद कुछ लोगों ने फरीदाबाद-बल्लभगढ़ हाईवे (National Highway 2) को जाम कर दिया। इस उग्र भीड़ ने पथराव किया जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

महापंचायत खत्म होने के बाद कुछ लोग फरीदाबाद-बल्लभगढ़ हाईवे पर पहुंचे और उन्होंने ट्रैफिक जाम कर दिया। एक संप्रदाय विशेष के होटल में तोड़फोड़ की गई। इससे भड़के संप्रदाय विशेष के लोगों ने सड़क जाम करने वालों पर पथराव कर दिया। इस दौरान आगजनी भी हुई। पुलिस ने लोगों से हटने को कहा, लेकिन कोई तैयार नहीं था। मामला सांप्रदायिक होते देख पुलिस ने लाठीचार्ज कर स्थिति को काबू में किया

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार करीब 200 लोगों की भीड़ नेशनल हाईवे 2 पर पहुंचीं और उन्होंने जाम किया। इस दौरान पत्थरबाजी हुई और पुलिस ने लाठीचार्ज किया। महापंचायत पूरी शांति के साथ संपन्न हुई। ऐसा माना जा रहा है कि कुछ देर बाद अराजक तत्वों ने हिंसा शुरू की।

पुलिस के अनुसार अराजक तत्वों ने स्थिति को बिगाड़ा और पत्थरबाजी की। इन लोगों की पहचान की जा रही है। पुलिस ने यह भी बताया कि यह महापंचायत बिना अनुमति के आयोजित की गई थी।

महापंचायत में निकिता के आरोपियों की फांसी की मांग की गई है। इसमें यह भी तय हुआ कि रणनीति के लिए अगले रविवार को फिर महापंचायत बुलाई जाई

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *