अश्लील क्लिप विवाद को लेकर गोवा के डिप्टी सीएम चंद्रकांत कावलेकर ने मंगलवार को पुलिस को शिकायत दी। साथ ही विपक्ष द्वारा लगाए गए आरोपों पर सफाई दी कि उनका मोबाइल फोन हैक हो गया था। जिस वक्त क्लिप मैसेज के तौर पर भेजा गया था, तब वह वहां थे ही नहीं। सो रहे थे। यह काम कुछ शरारती तत्वों ने किया है।

कावलेकर ने साइबर सेल को दी शिकायत में कहा है, “मैं वहां उस वक्त था भी नहीं, जब मेरे फोन से क्लिप व्हॉट्सऐप ग्रुप पर भेजी गई थी। कुछ शरारती तत्वों ने “Villages of Goa” नाम के ग्रुप पर एक वीडियो भेज दिया था, जिसमें आपत्तिजनक सामग्री थी। यह वीडियो इरादतन मेरे नाम से बढ़ाया गया, जिसके पीछे आपराधिक साजिश लगती है।”

उन्होंने यह भी आरोप लगाया- हाल-फिलहाल के समय में मुझे जनता के सामने बदनाम करने के लिए कई प्रयास किए गए हैं। मैं इस तरह के शरारती तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करता हूं, जिन्होंने आपराधिक तौर पर मेरा मोबाइल फोन हैक/टैंपर कर लिया था और उसके बाद आपत्तिजनक सामग्री अपलोड कर दूसरों को भेज दी थी।

दरअसल, विपक्षी दलों ने उन पर एक सामाजिक कार्यकर्ताओं के वॉट्सऐप ग्रुप में अश्लील क्लिप भेजने का आरोप लगाया है। रविवार रात इसी ग्रुप में आधी रात को मैसेज भेजा गया था। गोवा Congress ने इसी को लेकर कावलेकर के खिलाफ शिकायत दी है। वहीं, Goa Forward Party की महिला इकाई ने एक अन्य शिकायत देते हुए उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

पार्टी ने उन पर निशाना साधते हुए कहा, “सब कुछ जानते हुए कि वह क्लिप आपत्तिजनक थी, फिर भी उन्होंने उसे पब्लिक ग्रुप्स पर साझा किया।” बता दें कि कावलेकर पहले कांग्रेस में थे। वह बीते साल INC का हाथ छोड़ कर BJP में आए गए थे, जिसके बाद सरकार में उन्हें दो पदों से नवाजा गया था।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *