श्रीनगर की एक मस्जिद में पूर्व आतंकवादी कमांडर व जाने-माने मौलवी की हत्या कर दी गई। उनकी पहचान 80 वर्षीय अब्दुल गनी डार उर्फ अब्दुल्ला गजाली के रूप में की गई है। वह प्रमुख अहले हदीस मौलवी थे और आतंकवादी संगठन तहरीक-उल-मुजाहिद्दीन के संस्थापक सदस्यों में एक थे।

पुलिस ने कहा कि उन पर मस्जिद के भीतर किसी कुंद वस्तु से हमला किया गया और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। जम्मू-कश्मीर पुलिस मस्जिद के भीतर व बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है।

श्रीनगर के एसएसपी हसीब मुगल ने कहा, “मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच शुरू कर दी गई है।” उन्होंने कहा, “हम सभी साक्ष्यों को जुटा रहे हैं।”

डार, जमीयत अहले हदीस के प्रमुख मौलाना शौकत की हत्या में सह अभियुक्त थे, जिनकी हत्या 2011 में विस्फोट के दौरान हुई। इस मामले में उन्हें 2015 में जमानत मिली।

ReportLook Desk

Reportlook Media Network

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *